HomeBIOGRAPHYAzim Premji Biography In Hindi अज़ीम प्रेमजी की जीवनी

Azim Premji Biography In Hindi अज़ीम प्रेमजी की जीवनी

Azim Premji Biography In Hindi

अज़ीम प्रेमजी की जीवनी

Azim-Premji-Biography-In-Hindi
Azim-Premji-Biography-In-Hindi

” अजीम प्रेमजी का जीवन परिचय  “

अज़ीम प्रेमजी का

पूरा नाम

अजीम हाशिम प्रेमजी
अज़ीम प्रेमजी

का उपनाम

Bill Gates of India
अज़ीम प्रेमजी का

व्यवसाय / काम

भारतीय बिजनेस टाइकून, निवेशक, और परोपकारी

शारीरिक संरचना, आदि ( लगभग )

अज़ीम प्रेमजी की

लम्बाई

157 सेंटीमीटर
1.57 मीटर
5′ 2” फुट इंच
अज़ीम प्रेमजी का

वजन

65 किलोग्राम
143 पाउंड
अज़ीम प्रेमजी की

आँखों का रंग

गहरे भूरे रंग
अज़ीम प्रेमजी के

बालो का रंग

धूसर रंग

व्यक्तिगत जीवन

अज़ीम प्रेमजी की

जन्मतिथि

24 जुलाई 1945
अज़ीम प्रेमजी की

उम्र

72  वर्ष
अज़ीम प्रेमजी का

जन्मस्थान

बॉम्बे, बॉम्बे प्रेसीडेंसी, ब्रिटिश भारत
अज़ीम प्रेमजी की

राशि

सिंह राशि
अज़ीम प्रेमजी की

राष्ट्रीयता

भारतीय
अज़ीम प्रेमजी का

मूल स्थान

मुंबई, भारत
अज़ीम प्रेमजी का

स्थान

St. Mary School Mumbai, India
अज़ीम प्रेमजी की

यूनिवर्सिटी

स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी, कैलिफोर्निया, यूएसए
अज़ीम प्रेमजी की

शैक्षिक योग्यता

बैचलर ऑफ साइंस की डिग्री, स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग से
अज़ीम प्रेमजी का

परिवार

पिता- मोहम्मद हाशेम प्रेमजी, प्रसिद्ध उद्योगपति
माता- नाम ज्ञात नहीं, डॉक्टर
भाई- नाम नहीं पता
बहन- ज्ञात नहीं
अज़ीम प्रेमजी का

धर्म

शिया इस्लाम धर्म
अज़ीम प्रेमजी के

शौक

हाइकिंग, जॉगिंग, गोल्फ खेलना

पसंदीदा चीजें, आदि

अज़ीम प्रेमजी का

पसन्दीदा खाना

डोसा ( साउथ इंडियन खाना )
अज़ीम प्रेमजी की

पसंदीदा गाढ़ी

  • Ford Escort
  • Toyota Sedan
  • Toyota Corolla

ETC

अज़ीम प्रेमजी का

पसंदीदा रंग

काला रंग
अज़ीम प्रेमजी के

पसंदीदा बिजनेसमैन

धीरूभाई अंबानी, बिल गेट्स
अज़ीम प्रेमजी के

पसंदीदा अभिनेता

आमिर खान, शाहरुख खान

प्रेम संबन्ध, आदि

अज़ीम प्रेमजी की

विविहिक स्थिति

विवाहित
अज़ीम प्रेमजी के

प्रेम सम्बन्ध

ज्ञात नहीं
अज़ीम प्रेमजी की

पत्नी

यासमीन प्रेमजी (लेखक)
अज़ीम प्रेमजी के

बच्चे

बेटो का नाम – रिशद प्रेमजी (बिजनेस पर्सन) और तारिक प्रेमजी

बेटी- कोई नहीं

शैली भागफल

अज़ीम प्रेमजी की

गढ़ियो का संघ्रह

  • Ford Escort,
  • Toyota Sedan,
  • Toyota Corolla,
  • Mercedes E- Class
अज़ीम प्रेमजी का

घर – स्थान

अज़ीम प्रेमजी के पास कुन्नूर में वॉकर रोड पर एक बड़ा बंगला और एक बगीचा है

धन – संपत्ति विवरण / धन दौलत

अज़ीम प्रेमजी की धन दौलत $17.5 billion

17,50,00,00,000 United States Dollar equals

12,81,33,77,50,000.00 Indian Rupee )

Azim-Premji-Biography-In-Hindi
Azim-Premji-Biography-In-Hindi

अजीम प्रेमजी: कुछ अल्पज्ञात तथ्य व रोचक जानकारियाँ

  • क्या अजीम प्रेमजी धूम्रपान करते हैं? : ज्ञात नहीं
  • क्या अजीम प्रेमजी मदिरापान करते हैं? ज्ञात नहीं
  • अजीम प्रेमजी का जन्म बॉम्बे, भारत में एक शिया मुस्लिम परिवार में हुआ था, जिसका संबंध गुजरात के कच्छ क्षेत्र से था।
  • मोहम्मद हाशेम प्रेमजी, उनके पिता, एक प्रसिद्ध व्यवसायी थे जिन्हें “बर्मा के राइस किंग” के रूप में जाना जाता था। विभाजन के समय जब जिन्ना (पाकिस्तान के संस्थापक) ने उन्हें पाकिस्तान आमंत्रित किया, तो उन्होंने भारत में रहना पसंद किया।
  • 1966 में, उनके पिता की अप्रत्याशित रूप से मृत्यु हो गई, जिससे उन्हें अपनी स्नातक की डिग्री छोड़ने और वेस्टर्न इंडियन वेजिटेबल प्रोडक्ट्स लिमिटेड, जिसे बाद में विप्रो लिमिटेड (वेस्टर्न इंडिया पाम रिफाइंड ऑयल्स लिमिटेड) के रूप में संक्षिप्त किया गया, का अधिग्रहण करने के लिए मजबूर होना पड़ा।
  • उनके पिता ने 1945 में महाराष्ट्र के एक छोटे से शहर अमलनेर में WIPRO की स्थापना की। सूरजमुखी वनस्पति तेल और 787 वाशिंग साबुन दोनों फर्म द्वारा बनाए गए थे।
  • अजीम ने हेयर केयर साबुन, लाइट्स, बेकिंग फैट्स, शिशु प्रसाधन, एथनिक इंग्रीडिएंट-बेस्ड टॉयलेटरीज़ और हाइड्रोलिक सिलिंडर को शामिल करने के लिए तेल उत्पादन से परे कंपनी की महत्वाकांक्षा का विस्तार किया।

Azim-Premji-Biography-In-Hindi
Azim-Premji-Biography-In-Hindi

  • 2000 में, उन्होंने अपनी इंजीनियरिंग की डिग्री पूरी की, जिसे उन्हें 1966 के मध्य में एक पारिवारिक आपात स्थिति के कारण छोड़ना पड़ा।
  • 1980 के दशक में विकासशील आईटी क्षेत्र के महत्व को स्वीकार करते हुए, उन्होंने एक अमेरिकी व्यवसाय, सेंटिनल कंप्यूटर कॉरपोरेशन के साथ साझेदारी में मिनी कंप्यूटर का उत्पादन शुरू किया, और अपनी एकाग्रता को साबुन से सॉफ्टवेयर में बदल दिया।
  • विप्रो को दुनिया के सबसे बड़े सूचना प्रौद्योगिकी परामर्श और आउटसोर्सिंग संगठनों में से एक बनाने के बाद, उन्होंने अपने लिए एक वैश्विक जगह बनाई।
  • उन्होंने ग्रामीण सरकारी स्कूलों में बुनियादी शिक्षा प्रणाली में सुधार लाने के लक्ष्य के साथ 2001 में अजीम प्रेमजी फाउंडेशन की स्थापना की। यह संगठन छह राज्य सरकारों (कर्नाटक, राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और उत्तराखंड) के साथ-साथ एक केंद्र शासित प्रदेश (उत्तराखंड) (पुदुचेरी) के साथ सहयोग करता है।
  • अजीम संगठन को आवश्यक वित्तीय संसाधन प्रदान करता है, और फाउंडेशन पूरे भारत में लगभग 5000 ग्रामीण स्कूलों में कार्य करता है।
  • उन्होंने एक प्रसिद्ध परोपकारी और व्यवसायी यास्मीन प्रेमजी से शादी की।
  • उन्होंने अपनी उत्कृष्ट परोपकारी गतिविधि के लिए 2009 में मिडलटाउन, कनेक्टिकट में वेस्लेयन विश्वविद्यालय से डॉक्टरेट की मानद उपाधि प्राप्त की।
  • भारत सरकार ने अजीम को व्यापार और व्यापार में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए पद्म भूषण से सम्मानित किया।
  • प्रतिभा पाटिल ने उन्हें 2011 में पद्म विभूषण से सम्मानित किया। (भारत के तत्कालीन राष्ट्रपति)।
  • उन्हें टाइम मैगज़ीन की “दुनिया के 100 सबसे प्रभावशाली लोगों” की सूची में दो बार नामित किया गया था।
  • वह गिविंग प्लेज में भाग लेने वाले पहले भारतीय थे, एक अभियान जो संपन्न लोगों को परोपकारी संगठनों को अपने भाग्य का एक महत्वपूर्ण हिस्सा दान करने के लिए प्रोत्साहित करता है।

Azim-Premji-Biography-In-Hindi
Azim-Premji-Biography-In-Hindi

  • अक्टूबर 2003 में, उन्हें “इंडियाज़ टेक किंग” शीर्षक के साथ बिजनेस वीक पत्रिका के कवर पर चित्रित किया गया था और अगस्त 2003 में, उन्हें फॉर्च्यून के “अमेरिका के बाहर शीर्ष 25 सबसे शक्तिशाली व्यापारिक नेताओं” में से एक नामित किया गया था।
  • जब उनके पास खाली समय होता है, तो अजीम अपने परिवार के साथ ट्रेकिंग और फिल्में देखने का आनंद लेते हैं।
  • वह अपनी माँ की ओर देखता है और उसकी गतिविधियों में उसके जैसा बनने की इच्छा रखता है।
  • अपने अप्रैल 2017 के अंक में, इंडिया टुडे पत्रिका ने उन्हें “2017 के भारत के 50 सबसे शक्तिशाली लोगों” के शीर्ष दस में स्थान दिया।
  • मैसूर विश्वविद्यालय ने उन्हें 2015 में डॉक्टरेट की मानद उपाधि प्रदान की।

 

अजीम प्रेमजी ने बिग थिंक के साथ एक बेहतर भारत के लिए अपनी दृष्टि और मिशन, उनकी धर्मार्थ गतिविधियों और सुनने लायक कई अन्य विषयों के बारे में बात की:


Azim Premji Biography In Hindi

अज़ीम प्रेमजी की जीवनी

Azim-Premji-Biography-In-Hindi
Azim-Premji-Biography-In-Hindi

मैं इस बात पर बहुत मजबूत यकीन रखता हूं कि हम में से जिन भी लोगों के पास बहुत ज्यादा संपत्ति है उन्हें उन लाखों लोगों के लिए बेहतर दुनिया बनाने में महत्वपूर्ण योगदान करना चाहिए जो अत्यंत गरीब हैं|

आज हम बात करने जा रहे हैं भारत के मशहूर उद्योगपति अजीम प्रेमजी के बारे में वैसे तो उनके नाम को किसी इंट्रोडक्शन की जरूरत नहीं है पर आपकी जानकारी के लिए मैं बता दूं कि विप्रो कंपनी के चेयरमैन है और समाज के प्रति अपनी जागरूकता और लोगों के लिए कुछ करने की सोच के कारण भी जाने जाते हैं|

भारत के दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति

Azim-Premji-Biography-In-Hindi
Azim-Premji-Biography-In-Hindi

वर्तमान में यह भारत के दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति हैं जिनकी संपत्ति लगभग 125000 करोड रुपए हैं इन्हें भारत की आईटी इंडस्ट्री का सम्राट भी कहा जाता है तो चलिए दोस्तों आज हम जानते हैं उनके व्यक्तिगत जीवन और उनके अब तक के सफर के बारे में और साथी साथ समाज के लिए इनके किए गए कामों के बारे में इनके बारे में पूरी जानकारी हासिल करने के लिए पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़े|

बिजनेसमैन

Azim-Premji-Biography-In-Hindi
Azim-Premji-Biography-In-Hindi

अजीम प्रेमजी का पूरा नाम अजीम अजीम हाशिम प्रेमजी है | इनका जन्म 4 जुलाई 1945 को मुंबई में हुआ था | इनकी पत्नी का नाम यशमीन है और उनके दो लड़के हैं रिषद प्रेमजी और तारिक़ प्रेम जी इनके पिता मोहम्मद हसन प्रेम जी भी अपने समय के एक बड़े बिजनेसमैन थे इनका परिवार मूल रूप से गुजरात से है|

बंटवारा

Azim-Premji-Biography-In-Hindi
Azim-Premji-Biography-In-Hindi

जब भारत और पाकिस्तान का बंटवारा हुआ था तब जिन्ना ने उनके पिता को पाकिस्तान आने का निमंत्रण दिया और कहा कि अगर वह पाकिस्तान आते हैं तो उन्हें फाइनेंस मिनिस्टर बना दिया जाएगा मगर उन्होंने ऑफर को स्वीकार नहीं किया और भारत में ही रहे|

स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी

Azim-Premji-Biography-In-Hindi
Azim-Premji-Biography-In-Hindi

अपनी स्कूल की शिक्षा पूरी करने के बाद प्रेमजी इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग करने स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी गए मगर उसी दौरान उनकी पिता की मृत्यु हो गई और फिर बिजनेस संभालने के लिए वह भारत में ही रहे उन्होंने अपनी डिग्री कुछ समय के बाद पूरी कि उनकी कंपनी वेस्टर्न इंडियन वेजिटेबल प्रोडक्ट्स लिमिटेड उस समय सनफ्लावर वनस्पति तेल और 787 नाम का साबुन बनाती थी|

बिजनेस माइंडेड

Azim-Premji-Biography-In-Hindi
Azim-Premji-Biography-In-Hindi

प्रेम जी ने बिजनेस को आगे बढ़ाया और कई सारे प्रोडक्ट बेचने लगे 1977 में उन्होंने कंपनी का नाम बदलकर विप्रो प्रोडक्ट्स लिमिटेड रख दिया 1978 में जब कंप्यूटर हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर सेक्टर की बड़ी कंपनी आईबीएम को इंडिया से बाहर का रास्ता दिखाया गया तब भारत में बिजनेस का नया अवसर पर से बन गया क्योंकि आईबीएम ने भारत में कंप्यूटर का लगभग 80% मार्केट कवर कर रखा था जिसके अचानक चले जाने से बहुत बड़ा मार्केट खाली हो गया था अजीम प्रेमजी को भी यह मौका समझ में आ रहा था क्योंकि वह काफी बिजनेस माइंडेड है|

फाउंडेशन

Azim-Premji-Biography-In-Hindi
Azim-Premji-Biography-In-Hindi

उन्होंने कंप्यूटर हार्डवेयर के बिजनेस में इन्वेस्ट करना शुरू कर दिया और देखते ही देखते विप्रो हार्डवेयर में एक ब्रांड बन गई उसके बाद कंपनी सॉफ्टवेयर के विचित्र में आई जिसके लिए आज विप्रो को सबसे ज्यादा जाना जाता है 2001 में उन्होंने अजीम प्रेमजी फाउंडेशन बनाया जो 8 राज्यों के लाखों सरकारी स्कूलों के साथ मिलकर गांवों में शिक्षा में सुधार का काम कर रही है|

13000 करोड रुपए दान

Azim-Premji-Biography-In-Hindi
Azim-Premji-Biography-In-Hindi

उन्होंने भारत में स्कूल की शिक्षा में सुधार करने के लिए 2 बिलीयन डॉलर यानी लगभग 13000 करोड रुपए दान कर दिए जो कि अब तक का सबसे बड़ा दान है दुनिया के सबसे अमीर लोगों में से एक बिल गेट्स और वॉरेन बफेट के द्वारा द गिविंग प्लेज नाम का एक अभियान चलाया गया जिसमें बहुत अमीर लोगों को अपनी संपत्ति का एक हिस्सा दान करने के लिए प्रोत्साहित किया गया इस अभियान में हिस्सा लेने वाले पहले भारतीय अजीम प्रेमजी ही थे|

  • 2005 में प्रेम जी को पद्म भूषण से सम्मानित किया गया
  • 2011 में उन्हें पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया
  • 2013 में उन्हें इकोनामिक टाइम्स का लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड मिला

40% हिस्सा दान

Azim-Premji-Biography-In-Hindi
Azim-Premji-Biography-In-Hindi

अब तक कुल मिलाकर वह अपनी संपत्ति का लगभग 40% हिस्सा दान कर चुके हैं यहां तक कि यह दुनिया के सबसे बड़े बनारस में चौथे स्थान पर आते हैं और पैसे कमाने की इच्छा तो हर कोई रखता है दोस्तों पर ऐसे लोग जो ना सिर्फ बिजनेस में नाम कमाते हैं बल्कि समाज के लिए भी कुछ करते हैं बहुत कम देखने को मिलते हैं|

आपको यह पोस्ट कैसी लगी कमेंट करके हमें बताएं ( धन्यवाद osp )

NEXT

Homi Bhabha Biography in Hindi होमी जहांगीर भाभा की जीवनी

Avatar Of Letslearnsquad
LetsLearnSquadhttps://letslearnsquad.com
I am a youtuber & Blogger @ LetsLearnsquad.com
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular