HomeStudent CareerANM और GNM क्या होता है ? पूरी जानकारी

ANM और GNM क्या होता है ? पूरी जानकारी

ANM और GNM क्या होता है ? पूरी जानकारी

Contents hide
1 ANM और GNM क्या होता है ? पूरी जानकारी

 

हेलो फ्रेंड्स हमारा आज के पोस्ट का टॉपिक है जीएनएम और एएनएम इस पोस्ट में हम जाने वाले हैं जीएनएम और एएनएम कोर्स के बारे में, ANM और GNM क्या होता है तो हम वन बाय वन करके जानेंगे | सबसे पहले हम जानेंगे जीएनएम कोर्स के बारे में और पोस्ट के एंड में जानेंगे एएनएम कोर्स के बारे में तो सबसे पहले हम बात करते हैं जीएनएम कोर्स की

  • यह कोर्स क्या है?

  • इसे कैसे करते हैं?

  • इसे करने के बाद हमें किस लेवल पर जॉब मिल सकती है?

  • और जॉब मिलेगी भी या नहीं मिलेगी?

  • और जो जॉब मिलेगी हमें तो फिर उसकी सैलरी क्या होगी?

  • और इस कोर्स को करने के बाद आगे हम कौन-कौन से कोर्स कर सकते हैं?

  • और यह कोर्स किन किन के लिए होते हैं?

इन सभी प्रश्नों का उत्तर आज आपको इस पोस्ट में जरूर मिलेगा

जीएनएम कोर्स एक डिप्लोमा कोर्स होता है जिसे कोई भी कर सकता है यानी कि एक लड़का भी कर सकता है या फिर एक लड़की भी कर सकती है और इसका जो समयांतराल होता है यह कोर्स 3 साल 6 महीने का होता है पहले यह कोर्स केवल 3 साल का होता था लेकिन बाद में इसमें 6 महीने के इंटर्नशिप जोड़ दी गई है इसलिए आप यह कोर्स 3 साल से बढ़कर के 3 साल 6 महीने का हो गया है यह कोर्स व्यक्तियों परिवारों और समुदायों की देखभाल के प्रधान पर केंद्रित है इस कोर्स को आप किसी भी मान्यता प्राप्त संस्था से टेंथ ट्वेल्थ पास करने के बाद आप कम से कम 40 परसेंट इसको कर लेंगे ट्वेल्थ में फिर आपको इसमें एडमिशन मिल जाएगा आगे हम बात करते हैं कि

Q: जीएनएम कोर्स करने के लिए हमारे पास आवश्यक योग्यता क्या क्या होनी चाहिए?

जीएनएम कोर्स करने के लिए आपके पास कुछ विशेष योग्यता होनी चाहिए जिनके बारे में हम यहां पर बात करेंगे –

एज लिमिट

तो सबसे पहले हम जानते हैं कि आवश्यक योग्यता में एज लिमिट क्या है आप यह कोर्स नहीं कर सकते और अगर आप 35 साल से ज्यादा उम्र के हैं तब भी आप यह कोर्स नहीं कर सकते इसलिए इस कोर्स की जो एज लिमिट है वह मिनिमम 17 है और मैक्सिमम 35 इयर्स है

इसके बाद बात करते हैं इसका जो एजुकेशन क्वालिफिकेशन है यह है इंडियन नर्सिंग काउंसलिंग की वेबसाइट के अनुसार जो स्टूडेंट है उसे पीसीबी से ट्वेल्थ पास होना चाहिए या नहीं स्टूडेंट के पास ट्वेल्थ में फिजिक्स केमिस्ट्री और बायोलॉजी होनी चाहिए इसके अलावा अगर ट्वेल्थ में उसके पीसीबी भी नहीं था आर्ट या कॉमर्स स्ट्रीम का कोई स्टूडेंट है तो भी वह जीएनएम कोर्स को कर सकते हैं और इसमें जो कम से कम मार्क्स आपके होने चाहिए यह आपके संस्था पर डिपेंड करता है कि आपने किस बोर्ड से ट्वेल्थ पास किया है लेकिन जो लगभग 40 से 50 परसेंट मार्क्स आपके होने चाहिए चाहे आप किसी भी बोर्ड से क्यों ना हो इसके बाद आगे हम बात करते हैं जीएनएम कोर्स की फीस के बारे में|

फीस

जैसा कि हमने बताया कि यह कोर्स 3 साल और 6 महीने का होता है इस कोर्स की फीस दी सभी सरकारी कॉलेज व प्राइवेट कॉलेज में अलग-अलग होती है सरकारी कॉलेज में इस कोर्स की फीस होती है ₹75000 से ₹100000 तक मतलब इतना लगभग हो सकता है और वही अगर हम बात करें प्राइवेट कॉलेज की तो प्राइवेट कॉलेज में इसकी फीस लगभग ₹200000 तक हो सकती है यानी कि सरकारी कॉलेज में आपका जो फीस है वह थोड़ा कम लगेगा लेकिन प्राइवेट कॉलेज में ज्यादा लगता है इसके आगे हम बात करते हैं जीएनएम कोर्स के बारे में यह तो आपको पहले पता चल गया कि जीएनएम कोर्स 3 साल 6 महीने का होता है इसमें हर साल अलग-अलग सब्जेक्ट पढ़ाते हैं तो चलिए जानते हैं जीएनएम कोर्स और जीएनएम कोर्स का सिलेबस

जीएनएम कोर्स और जीएनएम कोर्स का सिलेबस

Anm और Gnm क्या होता है पूरी जानकारी

सबसे पहला जो फर्स्ट ईयर है तो फर्स्ट ईयर में यह सारे सब्जेक्ट आपके पास होंगे

  • एनाटॉमी एंड फिजियोलॉजी
  • माइक्रोबायोलॉजी
  • फंडामेंटल्स ऑफ नर्सिंग
  • फर्स्ट एड
  • कम्युनिटी हेल्थ नर्सिंग
  • हेल्थ एजुकेशन
  • न्यूट्रिशन
  • पर्सनल एंड एनवायरमेंटल हाइजीन
  • साइकोलॉजि 
  • सोशलॉजी

इसके बाद बात करते हैं कि सेकेंड ईयर में हमारे पास कौन-कौन से सब्जेक्ट होंगे तो आपके पास सेकंड ईयर में यह सब्जेक्ट होते हैं

Anm और Gnm क्या होता है पूरी जानकारी

  • मेडिकल सर्जिकल नर्सिंग
  • फार्माकोलॉजी
  • साइकाइट्रिक नर्सिंग

इसके बाद बात करते हैं थर्ड ईयर के सब्जेक्ट का तो थर्ड ईयर सब्जेक्ट है क्या क्या सब्जेक्ट है?

Anm और Gnm क्या होता है पूरी जानकारी
Anm और Gnm क्या होता है पूरी जानकारी

  • पीडियाट्रिक नर्सिंग
  • एडवांस कम्युनिटी हेल्थ नर्सिंग
  • और मिडवाइफरी एंड गाइनेकोलॉजी

इस कोर्स में आपको थे वर्टिकल नॉलेज होने के साथ-साथ आपको प्रैक्टिकल नॉलेज का एक्सपीरियंस होना भी बहुत जरूरी है इसको उसको जवाब पूरा कर लेते हैं तब आपको 6 महीने की एक लंबी इंटर्नशिप करनी होती है जिसमें वार्ड मैनेजमेंट पेशेंट की देखभाल और क्लीनिकल नर्सिंग प्रैक्टिस आदि इंटर्नशिप प्रोग्राम के पार्ट होते हैं जब हम इस कोर्स को पूरा कर लेते हैं और हमारी कहीं पर जॉब लगती है तो हमारी जो मिनिमम सैलरी है वह कितनी हो सकती है लगभग

सैलरी

भारत में एक फ्रेशर नर्स की सैलरी दो लाख से ज्यादा ही होती है स्टार्टिंग की जबकि एक एक्सपीरियंस नर्स की सैलरी 7,00,000 से ₹8,00,000 होती है हर साल कि आप जितना एक्सपीरियंस प्राप्त करेंगे उतना ही अधिक आपकी सैलरी हो जाएगी आपकी सैलरी कई कारकों पर डिपेंड करती है जैसे कि क्षेत्र शिक्षा अनुभव स्थान कार्य और प्रोफाइल यही सब पर आपका जो सैलरी है यह डिपेंड करता है आगे हम जानते हैं कि जीएनएम कोर्स करने के फायदे क्या होते हैं

फायदे

इसे करने के कई सारे बेनिफिट्स हैं जहां एक नर्स के रूप में आपको अलग-अलग प्रकार के रोगियों और अलग-अलग प्रकार के क्षेत्रों से निपटने के अवसर मिलते हैं तो चलिए जानते हैं कि जीएनएम कोर्स करने के फायदे क्या क्या है?

  • सबसे पहला फायदा यह है कि यह कोर्स करके आप सरकारी और प्राइवेट जॉब प्राप्त करके सेल्फ डिपेंडेंट बन सकते हैं खुद कमा सकते हैं
  • दूसरा सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसमें नर्स को फ्लैक्सिबिलिटी देने के लिए कई पार्ट टाइम पोजीशन उपलब्ध है और फिर आता है जो
  • तीसरा मेन पॉइंट यह है कि आप यह कोर्स करके सबसे अलग कुछ बन सकते हैं
  • चौथा मेन पॉइंट है इसमें काम दिन प्रतिदिन अलग-अलग और दिलचस्प रहता है इस काम को करने में आपको काफी इंटरेस्ट आएगा और इसके बाद हेल्थ केयर वर्कर्स के बीच में मेल मिलाप रहता है और फिर है इसमें आपको कई प्रकार के अवसर मिलते हैं तो यह सारे हैं जीएनएम कोर्स करने के फायदे इसके बाद जानते हैं कि जब हम जीएनएम कोर्स पूरा कर लेते हैं तो इसके बाद अब हम क्या करेंगे?

Q: इसके बाद क्या करे?

जब आप किसी भी मान्यता प्राप्त इंस्टिट्यूट से यह कोर्स कर लेते हैं तब आपको जीएनएम का रजिस्टर्ड सर्टिफिकेट मिल जाता है जिससे मेडिकल साइंस में आपके रास्ते खुल जाते हैं एक बार इस कोर्स को कर लेने के बाद आप कई प्रकार की सरकारी और प्राइवेट नौकरी करने के लायक हो जाते हैं आज हर प्राइवेट और सरकारी हॉस्पिटल में जीएनएम की आवश्यकता बनी रहती है तो आप कहीं पर भी अपना जॉब हासिल कर सकते हैं जीएनएम कोर्स करने के बाद आप किसी भी प्राइवेट या सरकारी हॉस्पिटल में जॉब अप्लाई कर सकते हैं स्टार्टिंग में आपको आपकी योग्यता के आधार पर इस फील्ड में 10,000 से ₹20000 हर महीने के मिल सकते हैं जिसके बाद धीरे-धीरे जैसे-जैसे आप का एक्सपीरियंस बढ़ जाएगा वैसे आपकी सैलरी भी बढ़ जाएगी आगे बात करते हैं कि यहां तक हमने बात किया जीएनएम कोर्स के बारे में और अब हम जानेंगे एएनएम कोर्स के बारे में

Q: एएनएम कोर्स क्या है?

यह चिकित्सा से जुड़ा एक कोर्स है इस कोर्स को करने के दौरान छात्र को चिकित्सा से जुड़ी ट्रेनिंग दी जाती है किस तरह से उन्हें मरीज का ध्यान रखना है और डॉक्टर द्वारा इलाज करते समय कैसे उसकी मदद करनी है और इन बातों के बारे में सिखाया जाता है यह एक नर्सिंग की फील्ड का डिप्लोमा कोर्स होता है यह कोर सिर्फ गर्ल्स के लिए ही होता है यह नाम का कोर्स करने के बाद गांव में भी अधिक नौकरी मिलती है जैसे कि टीका लगाने का काम मरीजों की देखभाल करना इलाज के दौरान काम आने वाले सभी उपकरणों को कैसे इस्तेमाल किया जाता है इसके बारे में बताया जाता है अगर बात करें एन एम की फुल फॉर्म के बारे में तो इसका जो फुल फॉर्म है यह है औक्सिलरी नर्सिंग मिडवाइफरी और यह कोर्स पूरे 2 साल का होता है इसके आगे हम बात करते हैं कि एएनएम कोर्स करने के लिए हमारे पास क्या-क्या आवश्यक योग्यता होनी चाहिए|

 

योग्यता

कोर्स करने के लिए हमारे पास कुछ विशेष योग्यता होनी बहुत जरूरी है सबसे पहला हम जानते हैं कि हमारे पास शैक्षिक योग्यता क्या होनी चाहिए तो आपको 10th क्लास पास होना चाहिए वह भी साइंस स्ट्रीम से और आपके टेंथ क्लास में 45% मार्क्स होना कंपलसरी है आगे बात करते हैं इसकी उम्र सीमा की

उम्र सीमा

तो मिनिमम एज आपकी 17 होनी चाहिए और मैक्सिमम आपकी 35 होनी चाहिए अगर आप 17 साल से कम के हैं तब भी आप इस कोर्स लिए अप्लाई नहीं कर सकते और अगर आप 35 साल से ज्यादा की हैं तब भी आप इसको रिप्लाई नहीं कर सकते इसके आगे हम बात करते हैं एडमिशन प्रोसेस कि

एडमिशन प्रोसेस

इस में एडमिशन का क्या प्रोसेस है इसमें आपका एडमिशन एक पर्सनल इंटरव्यू के आधार पर ही होता है जिसमें आप के पाठ्यक्रम के लिए सामान्य योग्यता का परीक्षण लिया जाता है आमतौर पर कॉलेज में प्रवेश अलग-अलग परीक्षाओं से होती है एएनएम कोर्स में अंतिम जो प्रवेश परीक्षा होती है वह इंटरव्यू पर ही डिपेंड करता है आगे हम बात करते हैं इस कोर्स की फीस के बारे में

कोर्स की फीस

एएनएम कोर्स की फीस सभी सरकारी कॉलेज और प्राइवेट कॉलेज में अलग-अलग होती है एएनएम की फीस 10000 से 500000 तक के बीच में होती है इसके आगे हम जानते हैं इसके कोर्स के बारे में इस का सिलेबस क्या है तो यह नाम का कोर्स 2 साल का होता है जिसमें आपको दोनों साल में अलग-अलग सिलेबस पढ़ना होता है जो पहले साल का सिलेबस है यह दिया गया है

पहले साल का सिलेबस

Anm और Gnm क्या होता है पूरी जानकारी
Anm और Gnm क्या होता है पूरी जानकारी

  • हेल्थ प्रमोशन
  • कम्युनिटी हेल्थ नर्सिंग
  • प्राइमरी हेल्थ केयर नर्सिंग
  • चाइल्ड हेल्थ नर्सिंग
  • और जो सेकंड ईयर का सिलेबस है

दूसरे साल का सिलेबस

Anm और Gnm क्या होता है पूरी जानकारी
Anm और Gnm क्या होता है पूरी जानकारी

  • मिडवाइफरी
  • हेल्थ सेंटर मैनेजमेंट

 

यह 2 साल का आप का कोर्स है और दोनों साल का सिलेबस भी आपको पता चल गया आगे हम जानते हैं कि एएनएम कोर्स के काम क्या क्या है इस कोर्स को करने के बाद हमें क्या क्या काम करने पड़ेंगे

Q: इस कोर्स को करने के बाद हमें क्या क्या काम करना पड़ेगा?

तो एएनएम कोर्स को करने के बाद हमें अलग-अलग प्रकार के काम करने होते हैं जैसे कि सबसे पहला काम होता है एएनएम डॉक्टर द्वारा इलाज के दौरान उनके काम में मदद करते हैं दूसरा काम है इसके साथ ही है ना मरीजों की देखभाल भी करते हैं तीसरा काम है मरीजों के रिकॉर्ड को मेंटेन करने का काम भी एएनएम के द्वारा ही किया जाता है और चौथा सप्तम पोटेंट इलाज के दौरान काम आने वाली चीजों उपकरण का जो रखरखाव का काम है यह भी नहीं संभालते हैं इसके आगे जानते हैं इस कोर्स की सैलरी के बारे में यानी कि जब हम इस कोर्स को कर लेते हैं और फिर हम जॉब करते हैं तो हमें सैलरी क्या मिल सकती है

सैलरी

एएनएम की सैलरी अलग-अलग हॉस्पिटल के अनुसार उनके नियमों पर डिपेंड करती है स्टार्टिंग में आपको 10 से ₹12000 की नौकरी आसानी से मिल जाएगी और अगर बात करें सरकारी नौकरी की तो आपको 25 से ₹30000 स्टार्टिंग में मिल जाएगी इसके आगे हम जानते हैं कि एएनएम कोर्स और जीएनएम कोर्स में अंतर क्या है और हमें कौन सा कोर्स करना चाहिए

Q: जीएनएम कोर्स और जीएनएम में अंतर क्या है?

तो यह पर नाम और जीएनएम कोर्स का अंतर हमने यही पर लिख दिया है आप पढ़ भी सकते हैं

Anm और Gnm क्या होता है पूरी जानकारी
Anm और Gnm क्या होता है पूरी जानकारी

वैसे हम आपको बता देते हैं जो कोर्स है वह 2 साल का होता है जबकि जीएनएम कोर्स 3 साल का होता है और जो एएनएम कोर्स के लिए हमने आपको बता दिया क्या आपको 10 वीं पास होना जरूरी है और आपके होना भी जरूरी है और अगर आपको ट्वेल्थ पास होना जरूरी है चाहे अप्प किसी भी स्ट्रीम से हो इस से कोई फर्क नहीं पड़ता और जो आपके मिनिमम मार्क्स है वह 45 से 50% मार्क्स होने चाहिए और जीएनएम कोर्स की एक खासियत है कि इसे लड़का और लड़की दोनों ही कर सकते हैं लेकिन जो एएनएम कोर्स है इसे सिर्फ गर्ल्स ही कर सकती हैं तो इनसे भी जरूरी बातों को पढ़ने के बाद अब आप ही अंदाजा लगा सकते हैं कि आपको कौन सा कोर्स करना चाहिए कौन सा कोर्स आपके लिए बेस्ट होगा|

पिछली पोस्ट :-

तहसीलदार कैसे बने? प्रमोशन , एग्जाम – जरूरी बाते

Avatar Of Letslearnsquad
LetsLearnSquadhttps://letslearnsquad.com
I am a youtuber & Blogger @ LetsLearnsquad.com
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular