HomeBIOGRAPHYAlbert Einstein Biography in Hindi अल्बर्ट आइंस्टीन की जीवनी

Albert Einstein Biography in Hindi अल्बर्ट आइंस्टीन की जीवनी

Albert Einstein Biography in Hindi

अल्बर्ट आइंस्टीन की जीवनी

Albert-Einstein-Biography-In-Hindi
Albert-Einstein-Biography-In-Hindi

अल्बर्ट आइंस्टीन का जीवन परिचय “

अल्बर्ट आइंस्टीन का पूरा व असली नाम Albert Einstein
अल्बर्ट आइंस्टीन का उपनाम Not Known
अल्बर्ट आइंस्टीन का व्यवसाय / काम Theoretical physicist
अल्बर्ट आइंस्टीन की फील्ड / क्षेत्र Physics, philosophy
अल्बर्ट आइंस्टीन की  थीसिस A New Determination of Molecular Dimensions
डॉक्टरेट सलाहकार Alfred Kleiner
अल्बर्ट आइंस्टीन के पुरुस्कार व उपलब्धियाँ • Barnard Medal (1920)
• Nobel Prize in Physics (1921)
• Matteucci Medal (1921)
• ForMemRS (1921)
• Copley Medal (1925)
• Gold Medal of the Royal Astronomical Society (1926)
• Max Planck Medal (1929)
• Time Person of the Century (1999)
Physical Stats & More
अल्बर्ट आइंस्टीन की लम्बाई 170 सेमी
1.70 वर्ग मीटर
फीट इंच में- 5′ 7″
अल्बर्ट आइंस्टीन का वजन 70 किग्रा
154.3 पाउंड
अल्बर्ट आइंस्टीन की रंग Dark Brown
अल्बर्ट आइंस्टीन के बालो का रंग White

व्यक्तिगत जीवन

अल्बर्ट आइंस्टीन की जन्मतिथि 14 मार्च 1879
अल्बर्ट आइंस्टीन का जन्मस्थान Ulm, Kingdom of Württemberg, German Empire
अल्बर्ट आइंस्टीन की मृत्यु की तरीख 18 अप्रैल 1955
अल्बर्ट आइंस्टीन की मृत्यु का स्थान Princeton, New Jersey, United States
अल्बर्ट आइंस्टीन की मृत्यु का कारण उदर महाधमनी धमनीविस्फार के टूटने के कारण

आंतरिक रक्तस्राव

अल्बर्ट आइंस्टीन की राशि Pisces
अल्बर्ट आइंस्टीन की राष्ट्रीयता German, Swiss, American
अल्बर्ट आइंस्टीन का मूल निवास / स्थान Ulm, Kingdom of Württemberg, German Empire
अल्बर्ट आइंस्टीन का स्कूल Catholic elementary school, Luitpold Gymnasium
अल्बर्ट आइंस्टीन का कॉलेज Swiss Federal Polytechnic,
University of Zurich
अल्बर्ट आइंस्टीन की शैक्षिक योग्यता 1900 में बीए, पीएच.डी. 1905 में
अल्बर्ट आइंस्टीन का परिवार पिता – हरमन आइंस्टीन
मां – पॉलीन कोचो
बहन – माजा आइंस्टीन
अल्बर्ट आइंस्टीन का धर्म Pantheism / देवपूजां
Ethnicity यहूदि
अल्बर्ट आइंस्टीन के शौक Sailing, Reading

Playing the Violin and Piano.

पसंदीदा चीजें, आदि

अल्बर्ट आइंस्टीन का पसंदीदा खेल Building Houses with Cards ( कार्ड से मकान बनाना )
अल्बर्ट आइंस्टीन का पसंदीदा संगीत मोजार्ट संगीत
अल्बर्ट आइंस्टीन की पसंदीदा किताबे Don Quijote by Cervantes Saavedra

The Karamasow Brothers by Dostojewski

प्रेम संबन्ध, आदि

अल्बर्ट आइंस्टीन की विवाहिक स्तिथि तलाक़शुदा
अल्बर्ट आइंस्टीन के चक्कर / महिलामित्र ज्ञात नहीं
अल्बर्ट आइंस्टीन की पत्निया Mileva Marić (1903–1919)

Elsa Löwenthal (1919–1936)

अल्बर्ट आइंस्टीन के बच्चे बेटे –

हंस अल्बर्ट (1904-1973)

एडुआर्ड “टेटे” (1910-1965)

बेटी
लिसेरल (1902-1903)

 

Albert-Einstein-Biography-In-Hindi
Albert-Einstein-Biography-In-Hindi

अल्बर्ट आइंस्टीन के बारे में कुछ तथ्य व जानकारियाँ

  • क्या यह सच है कि अल्बर्ट आइंस्टीन धूम्रपान का सेवन करते थे? हां करते थे|
  • क्या यह सच है कि अल्बर्ट आइंस्टीन ने शराब का सेवन करते थे ? हां करते थे|
  • ऐसा कहा जाता है कि अल्बर्ट आइंस्टीन के जन्म के समय उनके सिर का पिछला भाग असामान्य था, जिसका अर्थ है कि उनके सिर का पिछला भाग असाधारण रूप से विशाल था। एक हफ्ते बाद, उसके सिर के सामान्य होने का दावा किया गया था।
  • उनका जन्म जर्मनी में एक मध्यमवर्गीय हिब्रू परिवार में हुआ था और उनका केवल एक भाई, माजा था, जो उनसे केवल दो वर्ष छोटा था।
  • यह बताया गया है कि आइंस्टीन ने चार साल की उम्र तक बात करने के लिए संघर्ष किया। पढ़ने की समस्या के कारण उन्हें स्कूल से भी निकाल दिया गया था।
  • उन्होंने अपना पहला वैज्ञानिक कार्य, “चुंबकीय क्षेत्रों में एथर के राज्य की जांच” प्रकाशित किया, जब वे 16 वर्ष के थे।
  • उनके पिता की विद्युत कंपनी 1894 में एक बड़ा अनुबंध जीतने में विफल रही, इसलिए उनका परिवार मिलान, इटली में स्थानांतरित हो गया। दूसरी ओर, आइंस्टीन को म्यूनिख के एक बोर्डिंग स्कूल में भेजा गया था।
  • आइंस्टीन जर्मन सेना में शामिल होने के अपने फैसले से असंतुष्ट थे और डॉक्टर के नोट का उपयोग करते हुए, उन्होंने अचानक म्यूनिख बोर्डिंग स्कूल छोड़ दिया और मिलान की यात्रा की।
  • आइंस्टीन ने १६ साल की उम्र में, 1895 में ज्यूरिख में स्विस फेडरल पॉलिटेक्निक में प्रवेश परीक्षा दी थी। उन्होंने परीक्षा के सामान्य खंड में आवश्यक सीमा को पूरा नहीं किया, लेकिन उन्होंने भौतिकी और गणित में उत्कृष्ट परिणाम प्राप्त किए।
  • सैन्य सेवा से बचने के लिए आइंस्टीन ने जनवरी 1896 में अपने पिता के समझौते के साथ जर्मन साम्राज्य वुर्टेमबर्ग में अपनी नागरिकता से इस्तीफा दे दिया।
  • अपनी पहली भावी पत्नी के परिवार के साथ रहने के दौरान, उन्हें प्रोफेसर जोस्ट विंटेलर की बेटी, मैरी से प्यार हो गया। अल्बर्ट की बहन माजा ने अंततः विंटेलर के बेटे पॉल विंटेलर से शादी कर ली।
  • आइंस्टीन ने पाया कि सिद्धांतों के अध्ययन के माध्यम से प्रकाश की गति स्थिर थी, जिससे मैक्सवेल अनजान थे। आइंस्टीन की खोज से न्यूटन के गति के नियमों का सीधा उल्लंघन हुआ। नतीजतन, आइंस्टीन ने सापेक्षता के सिद्धांत को विकसित किया।
  • अपने तलाक के बाद, आइंस्टीन ने अपने चचेरे भाई एल्सा लोवेन्थल के साथ एक रिश्ता शुरू किया, जिनसे उन्होंने अंततः शादी की।
  • 1921 में, आइंस्टीन को भौतिकी के लिए नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था, लेकिन उनके सापेक्षता के सिद्धांत के लिए नहीं, जिसे उस समय व्यापक रूप से गलत समझा गया था। उन्हें फोटोइलेक्ट्रिक प्रभाव के उत्कृष्ट विवरण के लिए पुरस्कार दिया गया था।
  • आइंस्टीन ने एल्सा को लिखे कई पत्रों में कई विवाहेतर संबंध रखने की बात स्वीकार की।
  • आइंस्टीन ने मोजे पहनने के कृत्य का तिरस्कार किया। एल्सा को लिखे एक पत्र में उन्होंने लिखा, “यहां तक ​​कि सबसे गंभीर अवसरों पर भी मैं बिना मोजे पहने निकल गया और उच्च जूते में सभ्यता की कमी को छुपाया।”
  • आइंस्टीन 1940 में संयुक्त राज्य अमेरिका आए और उन्हें अमेरिकी नागरिकता प्रदान की गई।
  • 1952 में, आइंस्टीन को ज़ायोनी इज़राइल के राष्ट्रपति के पद की पेशकश की गई थी, लेकिन उन्होंने मना कर दिया।
  • आइंस्टीन कुल सिगरेट प्रेमी थे। “मुझे लगता है कि पाइप धूम्रपान सभी मानवीय मामलों में एक शांत और उद्देश्यपूर्ण निर्णय लेता है,” उन्होंने एक बार कहा था।
  • 17 अप्रैल, 1955 को न्यू जर्सी में पेट की महाधमनी धमनीविस्फार के फटने के कारण आंतरिक रक्तस्राव से आइंस्टीन की मृत्यु हो गई।

Albert-Einstein-Biography-In-Hindi
Albert-Einstein-Biography-In-Hindi


Albert Einstein Biography in Hindi

अल्बर्ट आइंस्टीन की जीवनी

आज हम बात करेंगे उस व्यक्ति के बारे में जिसे यदि 20वीं सदी का सबसे बुद्धिमान वैज्ञानिक कहा जाए तो गलत नहीं होगा जिसके जीवन में कई बड़ी दिक्कतें आई जैसे पत्नी की मृत्यु हो जाना और अपना देश छोड़कर जाने के लिए मजबूर हो जाना मगर इन मुश्किलों के बावजूद फिजिक्स में उनके जैसी पकड़ दुनिया में आज भी शायद किसी की नहीं है|

थ्योरी ऑफ रिलेटिविटी

Albert-Einstein-Biography-In-Hindi
Albert-Einstein-Biography-In-Hindi

दोस्तों आज हम बात कर रहे हैं अल्बर्ट आइंस्टीन की जिनकी सोच अपने समय से बहुत आगे की थी जिस वक्त दुनिया में ज्यादातर लोगों के लिए सामान्य पढ़ाई करना भी मुश्किल था उस समय आइंस्टीन ने रिसर्च करके दुनिया को थ्योरी ऑफ रिलेटिविटी और मांस, एनर्जी, इक्विवेलेंस जैसे सिद्धांत दिए जिनके बारे में उस समय सोचना भी मुश्किल था तो चलिए उनके बारे में शुरू से जानते हैं|

मंदबुद्धि

दोस्तों अल्बर्ट आइंस्टाइन का जन्म 14 मार्च 1879 को जर्मनी में हुआ था | उनके पिता एक इंजीनियर थे और उनके जन्म के एक साल बाद ही 1980 में उन्होंने इलेक्ट्रिकल सामान बनाने की एक कंपनी खोली थी आइंस्टीन को बोलना शुरू करने में काफी देर लगी थी जिसके लिए उन्हें डॉक्टर को भी दिखाना पड़ा था उनका सर भी आम लोगों की अपेक्षा बड़ा था इसकी वजह से कुछ लोगों ने मंदबुद्धि का भी समझते थे मगर जब उन्होंने बोलना शुरू किया तो बहुत कम समय में पूरी तरह बोलना सीख गए|

कुछ लोग यह भी कहते हैं कि वो मैथ्स में बहुत कमजोर थे | मगर यह सच नहीं है फिजिक्स और मैच में वह बचपन से ही बड़े तेज थे और उन्होंने 15 साल से भी कम उम्र में इंटीग्रल और डिफरेंशियल कैलकुलस खुद से खत्म कर लिया था|

वायोलिन

Albert-Einstein-Biography-In-Hindi
Albert-Einstein-Biography-In-Hindi

दोस्तों आइंस्टीन की म्यूजिक में भी बहुत रूचि थी जब वह सिर्फ 5 साल के थे तो उनकी माँ ने वायोलिन थमा दिया था जिसको बजाने में वह कुछ ही साल में मास्टर हो गए तब से वायोलिन उनका साथी बन गया था जो वह मौका पानी पर अक्सर बजा लिया करते थे इतनी टैलेंटेड होने के बावजूद स्कूल में टीचर उनसे खुश नहीं रहते थे क्योंकि आइंस्टीन को स्कूल की पढ़ाई का तरीका अच्छा नहीं लगता था|

हिस्ट्री के टीचर

एक बार की बात है कि उनके हिस्ट्री के टीचर ने उनसे पूछा कि वाटर लू के युद्ध में नेपोलियन कब हारा था आइंस्टीन ने तुरंत बोल दिया कि उन्हें डेट याद नहीं है और शायद वह भूल गए होंगे जब टीचर ने उनसे फिर पूछा कि क्या तुमने कभी याद करने की कोशिश की तो आइंस्टीन ने कहा कि उन्हें डेट्स याद करने का कोई फायदा समझ में नहीं आता क्योंकि हम लोग हमेशा बुक्स में डेट देख सकते हैं स्कूल में डेट्स रखने की बजाय चीजों को समझना जरूरी होना चाहिए यह बात सुनकर उनके टीचर उनसे बहुत नाराज हो गए और कहा कि स्कूल में तुम्हारे जैसे छात्र का होना इस स्कूल के लिए शर्म की बात है| अपने पिता से कहो कि वह तुम्हें यहां से ले जाए|

Albert-Einstein-Biography-In-Hindi
Albert-Einstein-Biography-In-Hindi

स्कूल में फेल

अल्बर्ट बिना समझे किसी भी चीज को रखने में बहुत कमजोर थे इसलिए उन्हें लगता था कि वह स्कूल में फेल हो जाएंगे उन्होंने एक बार कहा था कि जब हम स्कूल की सारी पढ़ाई भूल जाते हैं तो जो हमारे पास बचता है उसी को शिक्षा कहते हैं|

टीचर की नौकरी

1900  में अपनी ग्रेजुएशन पूरी करने के बाद उन्होंने टीचर की नौकरी खोजने में 2 साल लगा दिए मगर उन्हें नौकरी नहीं मिली इन्हीं 2 सालों में उनके वैज्ञानिक बनने के सफर की भी शुरुआत हो गई थी बाद में उनके एक दोस्त मार्शल के पिता की मदद से उन्हें पेटेंट ऑफिस में असिस्टेंट एग्जामिनर की नौकरी मिली वहीं पर उन्होंने ओलंपिया एकेडमी नाम का एक ग्रुप शुरू किया जो साइंस और फिलॉसफी के बारे में बात करने के लिए मिलने लगा 1905 में उन्होंने अपनी पीएचडी पूरी कर ली|

Albert-Einstein-Biography-In-Hindi
Albert-Einstein-Biography-In-Hindi

इस साल को आइंस्टीन का चमत्कारी साल भी कहा जाता है क्योंकि उसी साल उन्होंने अपनी चार जबरदस्त रिसर्च:-

  1. फोटोइलेक्ट्रिक इफेक्ट
  2. ब्राउनियन मोशन
  3. स्पेशल रिलेटिविटी
  4. और इक्विवेलेंस ऑफ मोशन एलर्जी प्रकाशित की

जो आज हमें स्कूल और कॉलेज में पढ़ाई जाती हैं इसके कारण सिर्फ 26 साल की उम्र में वह मशहूर होने लगे |

Albert-Einstein-Biography-In-Hindi
Albert-Einstein-Biography-In-Hindi

मशहूर वैज्ञानिक

1960 में उन्हें एक मशहूर वैज्ञानिक के रूप में पहचाना जाने लगा और कुछ साल पहले जिन्हें टीचर की भी नौकरी नहीं मिल रही थी उन्हें यूनिवर्सिटी ऑफ बर्न में लेक्चरर की नौकरी मिली 1916 में आइंस्टीन को जर्मन फिजिकल सोसाइटी का प्रेसिडेंट चुना गया उन्हें लोग फोटोइलेक्ट्रिक इफेक्ट के लिए फिजिक्स से 1921 का नोबेल प्राइज मिला|

हिटलर

Albert-Einstein-Biography-In-Hindi
Albert-Einstein-Biography-In-Hindi

 

 

1933 में जब आइंस्टीन अमेरिका गए तो जानते थे कि शायद अब वह जर्मनी कभी भी वापस नहीं आ पाएंगे क्योंकि वह हिटलर अब तक बहुत ताकतवर हो चुका था और वह जीव यानी यहूदियों से नफरत करता था हिटलर की सरकार ने जर्मनी में यह नियम लागू कर दिया कि कोई भी यहूदी किसी भी नौकरी में नहीं रह सकता जिसमें यूनिवर्सिटी भी शामिल था और एक झटके में बिना किसी विद्रोह के हजारों वैज्ञानिकों को अपने पद से जबरदस्ती हटना पड़ गया|

$5000 का इनाम

Albert-Einstein-Biography-In-Hindi
Albert-Einstein-Biography-In-Hindi

आइंस्टीन की कई लेखों को हिटलर की पार्टी ना जी ने जला दिया और जर्मनी की एक मैगजीन में दुश्मनों के लिस्ट में अल्बर्ट आइंस्टीन का भी नाम डाला गया और उनका सर काट कर लाने वाले को $5000 का इनाम देने की घोषणा की गई आइंस्टीन अमेरिका के इंस्टीट्यूट फॉर एडवांस्ड स्टडी में कार्यरत हो गए|

दूसरा विश्व युद्ध

Albert-Einstein-Biography-In-Hindi
Albert-Einstein-Biography-In-Hindi

दूसरे विश्व युद्ध के समय जब जर्मनी ने न्यूक्लियर बम बनाने के प्रोजेक्ट पर काम करना शुरू कर दिया तो आइंस्टीन को लगा कि यह उनकी जिम्मेदारी है कि वह अमेरिका को इसके खतरे के बारे में सतर्क करें उन्होंने अमेरिका के राष्ट्रपति रूजवेल्ट को एक पत्र लिखा जिसे अमेरिका के परमाणु बम का शो शुरू करने का मुख्य कारण माना जाता है अमेरिका इस काम में सफल भी हो गया और परमाणु बम रखने वाला और इस्तेमाल करने वाला पहला देश बन गया|

मृत्यु

Albert-Einstein-Biography-In-Hindi
Albert-Einstein-Biography-In-Hindi

कुछ सालों के बाद एक दिन उन्हें पेट में ब्लीडिंग होने की शिकायत हुई वह समय इजराइल के बनने के 7 साल पूरे होने के मौके पर बोलने के लिए अपना भाषण तैयार कर रहे थे जिसे अपने साथ लेकर वह अस्पताल भी गए मगर वह भाषण देने के लिए जीवित ना रह सके और 17 अप्रैल 1955 को मृत्यु हो गई|

आपको यह पोस्ट कैसी लगी हमें बताएं जरूर बताये ( osp )

NEXT

Rabindranath Tagore Biography in Hindi रविंद्रनाथ टैगोर

Avatar Of Letslearnsquad
LetsLearnSquadhttps://letslearnsquad.com
I am a youtuber & Blogger @ LetsLearnsquad.com
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular