HomeStudent Careerसुपर टेट एग्जाम क्या है ? Eligibility ,Age, Cut off

सुपर टेट एग्जाम क्या है ? Eligibility ,Age, Cut off

सुपर टेट एग्जाम क्या है ? Eligibility ,Age, Cut off

 

चलिए जानते है सुपर टेट के बारे में, सुपर टेट एग्जाम क्या है? जो भी कैंडिडेट यूपी में टीचिंग करना चाहते हैं गवर्नमेंट स्कूल में टीचर बनना चाहते हैं उनके लिए यह पोस्ट बहुत ही हेल्पफुल होने वाली है तो वीडियो को पूरा जरुर पढ़ना|

Difference Between – CTET, UPTET and SUPER TET

सुपर टेट एग्जाम क्या है ?
सुपर टेट एग्जाम क्या है ?

सबसे पहले हम देख लेते हैं इन तीनों में क्या डिफरेंस है सीटेट यूपीटेट और सुपर टेट जब आपको इन तीनों का डिफरेंस पता चल जाएगा तो आपको यह भी समझ आ जाएगा कि सुपर टेट है क्या सबसे पहले हम जान लेते हैं सीटेट के बारे में शार्ट में सीटेट का पूरा नाम है सेंट्रल टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट और यह नेशनल लेवल का एग्जाम है जो कि सीबीएसई द्वारा कराया जाता है साल में दो बार होता है और इसमें 2 लेवल होते हैं|

एग्जाम दो बार होता है और इसमें 2 लेवल होते हैं पेपर फर्स्ट एंड पेपर सेकंड पेपर फर्स्ट होता है क्लास 1st से 5th तक के टीचर बनने के लिए और पेपर सेकंड होता है क्लास 6th से 8th तक का टीचर बनने के लिए और यूपीटेट का पूरा नाम है उत्तर प्रदेश टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट है जो कि एक स्टेट लेवल का एग्जाम है इसीलिए एग्जाम स्टेट गवर्नमेंट कंडक्ट कराती है और साल में यह एग्जाम एक ही बार होता है इसमें भी दो स्तर होते हैं प्राइमरी और अपर प्राइमरी | प्राइमरी में 1st क्लास आती है और अपर प्राइमरी में से 8th आती है| आप चाहे तो दे सकते हैं अगर आप किसी एक पेपर में भी क्वालीफाई कर जाते हैं तो आप उस टीचर बनने के लिए योग्य होते हैं|

सुपर टेट एग्जाम क्या है ?
सुपर टेट एग्जाम क्या है ?

इसके बाद हम जान लेते हैं सुपर टेट किया है सुपर टेट का पूरा नाम है सुपर टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट जो कि उत्तर प्रदेश बेसिक एजुकेशन बोर्ड द्वारा साल में एक बार कंडक्ट करा जाता है तो अगर आपको यूपी में प्राइमरी और सेकेंडरी लेवल पर असिस्टेंट टीचर बनना है तो आपको सुपर टेट एग्जाम क्वालीफाई करना होगा यूपी में टीचर बनने के लिए आपको पहले यूपीटेट क्लियर करना होता है और उसके बाद सुपर टेट में भी पास होना पड़ता है इसीलिए यूपीटेट फर्स्ट लेवल का एग्जाम माना जाता है और सुपर डेट को सेकंड लेवल का एग्जाम कहते हैं सुपर टेट का एग्जाम देने के लिए आपके पास कुछ योग्यताएं होनी चाहिए जैसे कि

  • आपके 12th में 50% मार्क्स होने चाहिए है इसके अलावा आपके पास एजुकेशन में 2 साल का डिप्लोमा भी होना चाहिए
  • इसके अलावा इसकी दूसरी योग्यता है ट्वेल्थ विद 50% मार्क्स | 12th आपको 50% मार्क्स से पास करना है और 2 साल का आपके पास एलिमेंट्री एजुकेशन में डिप्लोमा होना चाहिए
  • और उसकी तीसरी योग्यता है ट्वेल्थ क्लास में भी आपके पास ट्वेल्थ में 50% मार्क्स होने चाहिए और आपके पास 4 साल का बीएलएड की डिग्री होना चाहिए
  • इसके बाद अगली योग्यता है ग्रेजुएशन एंड पास्ड , 2 ईयर डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन, आपके पास 2 साल का एलिमेंट्री एजुकेशन में डिप्लोमा होना चाहिए और साथ ही में ग्रेजुएशन की डिग्री भी होनी चाहिए
  • और इसके बाद एक और योग्यता है ग्रेजुएशन एंड B.Ed पास कैंडिडेट अगर आपके पास ग्रेजुएशन है और साथ में आपने B.ED कर रखा है तभी आप सुपर टेट के लिए एलिजिबल होते हैं

तो यहां पर जितनी भी योग्यताएं बताई गई है इनमें से आपके पास कोई एक योग्यता होनी चाहिए यहां पर टोटल पांच योग्यताएं हैं पांचों में से आपके पास कोई एक योग्यता होनी चाहिए अगर आपके पास योग्यता है तो आप सुपर टेट के लिए एलिजिबल होते हैं|

Fill Super Tet Exam Form

सुपर टेट का एग्जाम फॉर्म फिल करने के लिए आपको यूपीटेट या फिर सीटेट इन दोनों में से कोई भी एक क्वालिफाइड होना जरूरी है वेदर ग्रेजुएशन डिग्री अगर आपने यूपी टेट का एग्जाम दे रखा है तब आप सुपर टेट के लिए एलिजिबल होंगे अगर आपने यूपीटेट नहीं दिया है सीटेट दे रखा है तब भी आप सुपर टेट के लिए एलिजिबल होंगे इसके बाद हम लेते हैं सुपर टेट के लिए एज लिमिट क्या रखी गई है|

Super Tet Exam Age Limit

सुपर टेट के लिए मिनिमम एज लिमिट 21 है और मैक्सिमम 40 है और जो भी कैंडिडेट ओबीसी एससी और एसटी कैटेगरी के होते हैं उन्हें 5 साल का रिलैक्सेशन मिलता है ऐज में और जो भी डिफरेंटली एबल्ड कैंडीडेट्स है यानी कि पीएच कैंडिडेट फिजिकली हैंडिकैप्ड कैंडीडेट्स उनको 15 इयर्स का रिलेशन मिलता है ऐज लिमिट में|

तो चलिए देखते हैं सुपर टेट एग्जाम का पैटर्न क्या है यहां पर आप इसके सब्जेक्ट देख सकते हैं नंबर ऑफ क्वेश्चन देख सकते हैं और क्वेश्चन के मार्क्स पर देख सकते हैं|

सुपर टेट एग्जाम क्या है
सुपर टेट एग्जाम क्या है

और यह काम करने के लिए आपको 2 घंटे 30 मिनट का समय मिलता है यानी कि ढाई घंटे का आपको समय मिलेगा और यह एग्जाम ऑफलाइन होता है यानी कि पेन एंड पेपर मोड में इस में टोटल 150 क्वेश्चन सोते हैं जो कि मैंने आपको बता ही दिया और आपको यह भी पता चल गया तो 150 मार्क्स का भी होता है मतलब कि हर एक क्वेश्चन एक नंबर का होता है और सुपर टेट एग्जाम का कटऑफ तीन चीजों पर डिपेंड करता है सबसे पहला डिफिकल्टी लेवल ऑफ द एग्जाम दूसरा है नंबर ऑफ सीट्स अवेलेबल और तीसरा नंबर ऑफ़ कैंडीडेट्स अपीयर्ड फॉर एग्जाम अगर आप सोच रहे हैं कि कट ऑफ क्या होता है तो कट ऑफ का मतलब होता है मिनिमम क्वालीफाइंग मार्क्स और एग्जाम कट ऑफ इन तीनों चीजों पर डिपेंड करता है|

इसके बाद हम देख लेते हैं मिनिमम क्वालीफाइंग में जनरल वाले कैंडिडेट को 150 मैसेज 67 मार्क्स स्कूल करने होते हैं और वहीं अगर स्टूडेंट ओबीसी एससी एसटी कैटेगरी का है तो उन्हें कम से कम 150 में से सात नंबर उसको करने होते हैं|

Thanks For Reading This Post, अगर आपके मन में कोई सवाल हो तो जरूर पूछना – धन्यवाद |

Previous  Post:-

CDS EXAM क्या है? Age, Eligibility, Medical, etc.

Avatar Of Letslearnsquad
LetsLearnSquadhttps://letslearnsquad.com
I am a youtuber & Blogger @ LetsLearnsquad.com
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular