HomeStudent Careerनीट एंट्रेंस की जानकारी - जरूरी बाते

नीट एंट्रेंस की जानकारी – जरूरी बाते

नीट एंट्रेंस की जानकारी

 

आज हम नीट एंट्रेंस एग्जाम की पूरी डिटेल जानने वाले हैं तो चलिए शुरू करते हैं नीट एंट्रेंस की जानकारी – नीट का पूरा नाम है  नेशनल एलिजिबिलिटी  एंट्रेंस टेस्ट और यह जो टेस्ट है यह साल में एक बार होता है

 नीट एंट्रेंस एग्जाम कौन से स्टूडेंट देते हैं या फिर किस स्टूडेंट को देना चाहिए? नीट एंट्रेंस की जानकारी 

जो स्टूडेंट इंडिया में गवर्नमेंट या फिर प्राइवेट मेडिकल और डेंटल कॉलेज से ग्रेजुएशन या फिर पोस्ट ग्रेजुएशन लेवल के मेडिकल कोर्स और डेंटल कोर्स करना चाहते हैं उनके लिए नीट एंट्रेंस एग्जाम कंडक्ट कराया जाता है नीट एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर ही आपको कॉलेज में एडमिशन दिया जाता है तो अगर आप मेडिकल कोर्सेज या फिर डेंटल कोर्स करना चाहते हैं चाहे वह अंडर ग्रेजुएट लेवल का हो या फिर पोस्ट ग्रेजुएट लेवल का हो तो आप नीट एग्जाम की तैयारी कर सकते हैं

 नीट का एंट्रेंस एग्जाम ऑफलाइन होता है और इसमें भी दो टाइप होते हैं पहला  नीट यूजी होता है और दूसरा नीट पीजी होता है

नीट यूजी नीट पीजी की तैयारी

  1. नीट यूजी

तो अब हम यह जान लेते हैं कि हमें नीट यूजी एंटरेंस एग्जाम की तैयारी करनी है या फिर नीट की तैयारी करनी है जो भी स्टूडेंट्स अंडर ग्रेजुएट लेवल में मेडिकल कोर्सेज या फिर डेंटल कोर्स करना चाहते हैं उन्हें नीट यूजी की तैयारी करनी होती है मतलब आप ट्वेल्थ के बाद ग्रेजुएशन करने वाले हैं मेडिकल या फिर डेंटल कोर्स से, तो आप नीट यूजी की तैयारी कर सकते हैं जैसे कि एमबीबीएस बीडीएस बीएएमएस बीएचएमएस इन सभी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको करनी होगी नीट यूजी की तैयारी.

  1. नीट पीजी

इसके अलावा हम जान लेते हैं कि नीट पीजी की तैयारी कौन से स्टूडेंट करते हैं तो जो  स्टूडेंट मेडिकल या फिर डेंटल कोर्सेज पोस्ट ग्रैजुएट लेवल पर करना चाहते हैं उन्हें नीट पीजी  की प्रिपरेशन करनी होती है जैसे कि अब ऍम एस, एमडीएस आदि

तो इस तरीके से  यह दो टाइप में डिवाइडेड है और नीट यूजी का एग्जाम हर साल मई के मंथ में होता है और नीट पीजी का एग्जाम हर साल जनवरी के महीने में होता है वैसे नीट यूजी का एग्जाम इस बार मई में नहीं हुआ है कोरोना की वजह से वैसे हर साल इसका एग्जाम मई के महीने में ही होता है

 नीट यूजी के लिए क्याक्या योग्यता होनी चाहिए?

Vlcsnap 2021 03 12 06H24M27S074

स्टूडेंट के पास सबसे पहले आपको भारतीय नागरिक होना जरूरी है इंडियन सिटीजन ही नीट यूजी का एग्जाम दे सकते हैं और आपको ट्वेल्थ पास होना भी जरूरी है किसी रिकॉग्नाइज बोर्ड से, ट्वेल्थ में आपके पास पीसीबी स्क्रीम होना चाहिए मतलब कि आपके पास फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजीयह तीनों सब्जेक्ट होने ही चाहिए इसके अलावा अगर आपने बायोलॉजी ऐसा ऑप्शनल सब्जेक्ट पढ़ा है ट्वेल्थ में तभी आप नेट के लिए अप्लाई कर सकते हैं

ट्वेल्थ में आपके मार्क्स कितने होने चाहिए ?

 अगर आप नेट के लिए अप्लाई करना चाहते हैं और आप जनरल कैटेगरी के स्टूडेंट है तो आपके पास कम से कम 50% मार्क्स होने चाहिए ट्वेल्थ में इसके अलावा जो पीडब्ल्यूडी ओबीसी एससी एसटी कैंडिडेट है इनके लिए 45% मार्क्स की जरूरत होती है अगर आपके पास 45% मार्क्स है ट्वेल्थ में तो आप अप्लाई कर सकते हैं

 फिजिकली हैंडिकैप्ड कैंडिडेट

अगर कोई कैंडिडेट फिजिकली हैंडिकैप्ड भी है और साथ में वह ओबीसी एससी या फिर एसटी कैटेगरी से बिलॉन्ग करता है तो उसके पास कम से कम 40% मार्क्स होने चाहिए ट्वेल्थ में तो यहां तक आपको मार्क्स क्राइटेरिया तो समझ आ गया होगा

 ऐज लिमिट

 तो नीट यूजी में अप्लाई करने के लिए एक स्टूडेंट की मिनिमम ऐज  लिमिट 17 इयर्स होनी चाहिए अगर आपकी ऐज 17 ईयर्स से कम है तो आप नीट यूजी के लिए अप्लाई नहीं कर सकते हैं अगर आप 17 या उससे ज्यादा  के हैं तभी आप अप्लाई कर पाएंगे

 मैक्सिमम एज लिमिट

 तो मैक्सिमम एज लिमिट जनरल कैटिगरी के स्टूडेंट्स के लिए 25 इयर्स है और जो रिज़र्व कैटेगरीज के कैंडिडेट होते हैं उनके लिए मैक्सिमम एज लिमिट 30 है यानी कि उन्हें 5 इयर्स का रिलैक्सेशन मिलता है अगर हम नीट के एटेम्पट की बात करे तो नीट यूजी के एटेम्पट तो अनलिमिटेड है आप जितनी चाहे उतनी एग्जाम दे सकते हैं अगर आप एक बार एटेम्पट करते हैं और आप फेल हो जाते हैं तो अब दुबारा ट्राई कर सकते हैं और इस तरीके से आप अनलिमिटेड टाइम ट्राई कर सकते हैं बस ऐज लिमिट पार नहीं होनी चाहिए

 नीट एंट्रेंस एग्जाम का क्या  एग्जाम पैटर्न होता है?

नीट यूजी नीट पीजी की तैयारी

एग्जाम पैटर्न जानना स्टूडेंट के लिए बहुत ज्यादा जरूरी होता है तो यहां पर दिया हुआ एग्जाम पैटर्न इसमें आपके टोटल 4 सब्जेक्ट होते हैं कहीं-कहीं पर आपको तीन सब्जेक्ट भी देखने को मिलते हैं जहां पर आप को बताया जाएगा फिजिक्स केमिस्ट्री और बायोलॉजी तो वह भी सही होता है और यहां पर जो चार सब्जेक्ट बताये है वो भी सही है बायोलॉजी में ही दो पार्ट्स होते हैं तो जूलॉजी और एक बॉटनी, तो यह टोटल आपके 4 सब्जेक्ट होते हैं जिनका एग्जाम आपको नेट में देना होता है

1. फिजिक्स नेट में आपका जिसमें से 45 क्वेश्चन आते हैं 45 क्वेश्चन होते हैं टोटल और यहां पर 180 टोटल मार्क्स है यानी कि जो आपका एक क्वेश्चन है वह चार नंबर का होता है अगर आप एक क्वेश्चन का सही आंसर देते हैं तो आपको चार नंबर मिलते हैं

 2. केमिस्ट्री, केमिस्ट्री से भी 45 क्वेश्चन पूछे जाते हैं और इसकी भी टोटल 180 मार्क्स के होते हैं

3. जूलॉजी इससे भी 45 क्वेश्चन आते हैं

4. बॉटनी से भी 45 क्वेश्चन आते हैं

 टोटल नीट एग्जाम 720 मार्क्स का होता है और टोटल इसमें 180 क्वेश्चन होते हैं

नीट यूजी नीट पीजी की तैयारी

इस एग्जाम को करने की जो आपको ड्यूरेशन मिलती है 3 घंटे का टाइम आपको मिलता है एग्जाम करने के लिए और 3 घंटे के समय से आप जिसको जितना समय देना चाहते हैं उतना समय दे सकते हैं और यह तो आपको बता दिया कि इस क्वेश्चन फॉर मार्क्स का होता है

नोट:– अगर आप किसी क्वेश्चन को गलत लिखते हैं तो उसके आपके एक नंबर कट जाते हैं और अगर आप कोई क्वेश्चन खाली छोड़ देते हैं यानी कि ना तो आप उसका न तो सही उत्तर लिखते है और न ही गलत और आप अगर खाली छोड़ कर आते हैं तो वहां पर आपके मार्क्स नहीं काटे जाते ,

नीट एंट्रेंस एग्जाम के सिलेबस के बारे में

तो इलेवंथ और ट्वेल्थ में फिजिक्स केमिस्ट्री बायोलॉजी के जो कांसेप्ट आपको पढ़ाए जाते हैं उसी से रिलेटेड नीट यूजी का जो सिलेबस होता है वह आपको उसी के बेस पर करनी होती है जो कि एनसीईआरटी के द्वारा निर्धारित होते हैं

तो नीट की तैयारी आप कोचिंग लेकर भी कर सकते हैं और अगर आप स्वयं से तैयारी करना चाहते हैं तो आप इंटरनेट की हेल्प से भी कर सकते हैं

नीट एग्जाम के लैंग्वेज के बारे में

लैंग्वेज इज ऑफ नीट पेपर , किन किन लैंग्वेज में  आप पेपर दे सकते हैं स्टूडेंट के लिए जाना बहुत जरूरी होता है कि क्या हम नेट का पेपर हिंदी में दे सकते हैं तो यह पेपर हिंदी में भी दे सकते हैं लेकिन हिंदी के साथ-साथ यहां पर टोटल 11 लैंग्वेज और हैं जिनमें आप पेपर दे सकते हैं तो वह 11 लैंग्वेज की लिस्ट यहां पर दी गई है आप देख सकते हैं इसमें सबसे पहले नंबर पर जो लैंग्वेज है

Vlcsnap 2021 03 12 06H24M59S732

 वह इंग्लिश, हिंदी, उर्दू ,बंगाली, उड़िया, तमिल, कन्नड़, तेलुगू, मराठी ,गुजराती और असामिस्ट,

तो यह  11 लैंग्वेज है जिसमे  नेट का जो एग्जाम है यह कंडक्ट कराया  जाता है जिस में भी आप कंफर्टेबल हैं आप उस लैंग्वेज में नीट का एग्जाम दे सकते हैं

Previous Post :-

डिप्लोमा इन एविएशन कोर्स कैसे करे?

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular