HomeStudent Careerआरटीओ ऑफिसर कैसे बने?

आरटीओ ऑफिसर कैसे बने?

आरटीओ ऑफिसर के बारे सम्पूर्ण जानकारी 

 

आरटीओ ऑफिसर कैसे बने?

आरटीओ ऑफीसर क्या होता है इसके क्या क्या काम होते हैं? हम कैसे आरटीओ ऑफिसर बन सकते हैं ? एक आरटीओ ऑफिसर बनने के लिए क्या-क्या योग्यताएं होती है? उसका एग्जाम पैटर्न क्या होता है ?और एग्जाम में पासिंग मार्क्स कितना होता है?और इसके अलावा एक आरटीओ ऑफीसर की सैलेरी कितनी होती है?

 

आरटीओ ऑफिसर कैसे बने?

आरटीओ का पूरा नाम जान लेते हैं।

 

आरटीओ ऑफिसर कैसे बने?

 

आरटीओ का पूरा नाम है रीजनल ट्रांसपोर्ट ऑफीसर, आरटीओ को आरटीआई भी कहा जाता है दोनों सेम चीज आरटीओ या फिर आरटीए,

आरटीए का मतलब होता है रीजनल ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी

आरटीओ एक इंडियन गवर्नमेंट ब्यूरो है जो पूरे भारत में विकल्प के रजिस्ट्रेशन और ड्राइविंग लाइसेंस जारी करता है।

आरटीओ ऑफीसर के काम क्या-क्या होते हैं

 

आरटीओ ऑफिसर कैसे बने?
आरटीओ ऑफिस का सबसे पहला काम तो यह होता है आपने देखा ही होगा जब भी हम कोई गाड़ी या वाहन खरीदते हैं तो खरीदने के बाद हमें उसके कई सारे डॉक्यूमेंट बनवाने पड़ते हैं एक ही गाड़ी के कई तरह के डॉक्यूमेंट बनते हैं
ड्राइविंग लाइसेंस, पॉल्यूशन टेस्ट, व्हीकल रजिस्ट्रेशन और एक्स्ट्रा डॉक्यूमेंट आरटीओ के द्वारा जांच करने के बाद ही जारी किया जाता है इसके अलावा के डेटाबेस यानी कि वाहनों के डाटाबेस में और ड्राइवरों के डेटाबेस को भी रखने का जो काम होता है वह आरटीओ ऑफिस का ही होता है।

ऑफिसर कैसे बने?

 

आरटीओ ऑफिसर कैसे बने?
 इसमें तीन तरह के पोस्ट होते हैं-
सबसे पहला होता है आरटीओ क्लर्क,
दूसरा है आरटीओ असिस्टेंट इंजीनियर,
और तीसरा होता है आरटीओ जुडिशल सर्वेंट,
आरटीओ बी ग्रेड का ऑफिसर होता है एक आरटीओ को अपने एरिया के सभी वाहनों और वाहनों से रिलेटेड डॉक्यूमेंट चेक करने का पूरा परमिशन होता है।

आरटीओ ऑफिसर बनने के लिए शैक्षिक योग्यताएं

 

आरटीओ ऑफिसर कैसे बने?
तो आइए जानते हैं इसके क्राइटेरिया के बारे में एक आरटीओ ऑफिसर बनने के लिए इसमें सबसे पहले तो यहां पर जो डिमांड यह होती है कि आपके पास भारतीय नागरिकता होनी चाहिए  तभी आप एक आरटीओ ऑफिसर बन सकते हैं भारतीय नागरिकता होने के साथ-साथ क्वालिफिकेशन में यहां पर आपको टेंथ पास होना जरूरी है किसी भी स्ट्रीम से और अगर आप हाई पोस्ट पर जाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन पास होना जरूरी है और आरती ऑफिसर के जॉब के लिए गर्ल्स एंड बॉयज दोनों अप्लाई कर सकते हैं और यह पोस्ट पर भी डिपेंड करता है कि आप किस के लिए अप्लाई करते हैं।

ऐज लिमिट

 

आरटीओ ऑफिसर कैसे बने?
एज लिमिट के बारे में तो इसमें जो मिनिमम ऐज लिमिट है 20 इयर्स और मैक्सिमम 30 इयर्स है अगर आपसे कम है तब भी आप इसके लिए अप्लाई नहीं कर सकते तो इसलिए इसमें मिनिमम एज लिमिट एंड मैक्सिमम एज लिमिट तय की हुई है इसके अलावा जो ओबीसी कैटिगरी के स्टूडेंट्स को 3 साल की छूट मिलती है और एक्स सर्विसमैन और एससी एसटी इन कैटिगरी के स्टूडेंट्स को 5 इयर्स की छूट मिलती है इसके बाद आते हैं फिजिकल डिसेबिलिटी जो भी स्टूडेंट फिजिकली डिसएबल हैं तो उन्हें 10 इयर्स की छूट मिलती है।

आरटीओ की परीक्षा

 

आरटीओ ऑफिसर कैसे बने?
आरटीओ की जो परीक्षा होती है वह स्टेट पब्लिक सर्विस कमीशन द्वारा कराई जाती है यानी कि राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा कराया जाता है और उसका सिलेक्शन प्रोसेस 3 स्टेप में होता है।
पहला स्टेप होता है रिटन एग्जाम रिटन एग्जाम आपको देना होता है जब आप रिटन एग्जाम दे देंगे उसके बाद ही आप सेकंड स्टेप में बढ़ते हैं तो फर्स्ट स्टेप एग्जाम में 2 घंटे का एग्जाम होता है जिसमें 200 क्वेश्चंस आपसे पूछे जाते हैं 200 क्वेश्चन यह सारे एमसीक्यू क्वेश्चन होते हैं और टोटल 200 मार्क्स के होते हैं
इसमें आपका जो क्वेश्चन होता है यह राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय वर्तमान घटनाक्रम, ज्योग्राफी, इंग्लिश लैंग्वेज, जनरल साइंस, हिस्ट्री ऑफ इंडिया, आर्थिक और सामाजिक विकास पर्यावरण और सामाजिक विकास इन सभी सब्जेक्ट से रिलेटेड होता है।
जब आप फर्स्ट स्टेप क्लियर कर लेते हैं यानी कि आपका रिटन एग्जाम पास कर लेते हैं फिर आपको सेकंड स्टेप में आना पड़ता है जो कि फिसिकल टेस्ट है फिर आपका फिजिकल टेस्ट होता है फिजिकल टेस्ट के लिए फिट एंड हेल्दी होना जरूरी है इसके बाद जवाब फिजिकल टेस्ट में भी क्लियर हो जाते हैं
फर्स्ट सेकंड दोनों टेस्ट क्लियर करने के बाद तीसरा होता है आपका इंटरव्यू इंटरव्यू क्लियर करने के बाद आपको जॉब मिल जाती है।

पासिंग मार्क्स 

 

आरटीओ ऑफिसर कैसे बने?
एग्जाम में आपके जो पासिंग मार्क्स होने चाहिए वह कम से कम 60% होने चाहिए अगर आप जनरल केटेगरी से बिलॉन्ग करते हैं और अगर आप sc-st या फिर ओबीसी कैटिगरी के स्टूडेंट्स फिर आपके पास कम से कम 50% आने ही चाहिए तभी आप आरटीओ ऑफिसर का एग्जाम पास कर पाएंगे।

सैलरी 

आरटीओ ऑफिसर की सैलरी होती है वह 15600 से लेकर के 55000 तक होती है इसके साथ-साथ आपका ग्रेड पे 4200 होता है यह स्टेट वाइज डिफरेंट होती है क्योंकि ऑफिसर का एग्जाम होता है यह हर एक स्टेट में अलग-अलग होता है आरटीओ ऑफिस का एग्जाम स्टेट वाइज होता है हर स्टेट में अपना अपना एग्जाम होता है तो इसलिए उसकी सैलरी भी जो है वह स्टेट वाइज अलग अलग होती है।

आरटीओ ऑफिसर बनने के लिए जरुरी कुछ बाते

 

आरटीओ ऑफिसर कैसे बने?
आरटीओ ऑफिसर के लिए कभी डायरेक्ट भर्ती नहीं होती है यदि आपको एक ऑफिसर बनना है तो इसके लिए आपको पहले आई एम वी या फिर आरटीओ के पोस्ट पर ज्वाइन होना पड़ेगा इन पोस्ट के लिए आपको पहले अप्लाई करना पड़ेगा इन पोस्ट का जब एग्जाम क्लियर कर लेते हैं जब इसमे जॉब लग जाती है उसके बाद आपका जब प्रमोशन होता है प्रमोशन होने के बाद आपको आरटीओ ऑफिस बनाया जाता है आई एम वी का पूरा नाम है इंस्पेक्टर ऑफ मोटर व्हीकल।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular